फरीदाबाद,
नगर निगम आयुक्त यशपाल यादव ने अतिक्रमणों को हटाना, सड़कों का सौंदर्यीकरण, पीने के पानी-सीवरेज की व्यवस्था को दुरूस्त करने, पार्कों की सफाई तथा पार्को और सड़कों पर लाईटों की व्यवस्था, पार्कों में घास की कटाई, पेड़ों की छटाई आदि को लेकर इंजीनियरिंग ब्रांच के अधिकारियों के साथ मीटिंग ली। मीटिंग में  अतिरिक्त आयुक्त, मुख्य अभियंता, मुख्य अभियंता (बागवानी) अधीक्षण अभियंता-1 तथा कार्यकारी अभियंता, सहायक अभियंता उपस्थित थे।मीटिंग में निगमायुक्त ने इंजीनियरिंग ब्रांच के अधिकारियों को निर्देश दिये कि जो नाले/नालियों की सफाई का कार्य या अतिक्रमणों को हटाने का कार्य हो रहा है वैसे ही सभी वार्डों में जारी रहेगा और नाले/नालियों की सफाई तथा अतिक्रमण मुक्त का काम  30 अप्रैल, 2022 तक पूरा करना होगा अन्यथा संबंधित अधिकारी इसका जिम्मेवार होगा। मुख्य अभियन्ता को यह भी आदेश दिये कि सीवर मैन होल की कोई मैनुअल सफाई नहीं करवानी चाहिए और वह केवल मशीनीकृत सफाई ही होनी चाहिए ताकि माननीय उच्च्तम न्यायालय के आदेशों की पालना हो सके। इस बारे में जनता की सुविधा के लिए टोल फ्री नंबर-14420 जो केन्द्रीय सरकार ने जारी किया है को नगर निगम द्वारा अपनाया जायेगा। बैठक में मुख्य अभियन्ता बागबानी को आदेश दिये कि ग्रीन बेल्ट के रख-रखाव के लिये डिजाइन प्रस्तुत करने का भी निर्देश दिया ताकि ऐसे डिजाइन के मुताबित निगम में पड़ने वाली सभी हरी पट्टियों को विकसित किया जा सके ताकि एकरूपता हो व वे सुंदर लगे। बैठक में निगमायुक्त ने गुड़गाव रोड पर हनुमान मंदिर से नाहर सिंह स्डेडियम होते हुए बीके चौक तक, बीके चौक से नीलम चौक, बीके चौक से चिमनी बाई चौक एवं बीके चौक से निगम काफ्रेंस हाॅल तक की सड़कों को अतिक्रमण मुक्त, पौधारोपण आदि करने के बाद सुन्दर बनाने के आदेश दिये। निगमायुक्त ने मीटिंग में 12 जनवरी, 2022 को सभी 40 वार्डों में चिन्हित किये गये एक-एक गैर कानूनी निर्माणों के विरूद्ध कार्यवाही करने के लिये भी संबंधित इंजीनियर्स को आदेश दिये।
मीटिंग में स्मारक पार्कों के रख-रखाव/स्वच्छता के बारे मंे भी विचार-विमर्श हुआ। निगमायुक्त ने विभिन्न वार्डों में स्थित ऐसे सभी पार्कों को च्न्हिित करने का निर्देश दिये और कहा कि इन सभी पार्को में 14 जनवरी, 2022 को सफाई/पार्क की मरम्मत, घास/पेड़ों की छटाई तथा उचित रोशनी आदि का कार्य एक साथ ही किया जायेगा।
निगमायुक्त ने बैठक में सभी इंजीनियर्स को पानी और सीवर के बिल 31 मार्च, 2022 तक न केवल जारी करने के बल्कि इन सब की पूर्ण राशि को वसूल करने के भी आदेश दिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published.