फरीदाबाद,

मानव रचना इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रिसर्च एंड स्टडीज को यूजीसी द्वारा सेंटर फॉर डिस्टेंस और ऑनलाइन एजुकेशन की मान्यता दी गई है। अब देश के किसी भी कोने से छात्र घर बैठे ही मानव रचना के बीबीए, बीए ऑनर्स ईकोनॉमिक्स, बीसीए, एमसीए, एमबीए और एमकॉम कोर्स में दाखिला ले सकते हैं। दाखिला प्रक्रिया सोमवार 22 नवंबर 2021 से ऑनलाइन शुरू होगी।

सेंटर फॉर डिस्टेंस एंड ऑनलाइन एजुकेशन  के डायरेक्टर और MRIIRS के वीसी डॉ. प्रदीप कुमार ने बताया ऑनलाइन शिक्षा में मानव रचना ने कई उद्योगों जैसे माइक्रोसॉफ्ट, ज़ेबिया, क्विकहील, टैलेंट एज, बीएसई और कई अन्य बड़े संगठनों के साथ भागीदारी की है। उन्होंने कहा कि इन प्रोग्राम्स के अंतर्गत दिव्यांग, महिलाओं, सरकारी कर्मचारी, मानव रचना के एलुम्नाई और स्टेट लेवल पर खेलने वाले खिलाड़ियों को स्कॉलरशिप दी जाएगी।

डॉ. प्रशांत भल्ला ने कहा कि मानव रचना के लिए यह एक उल्लेखनीय उपलब्धि है। ऑनलाइन स्पेस आज हर किसी के सीखने और व्यक्तियों को कुशल और नौकरी के लिए तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। शिक्षा की शक्ति के माध्यम से मानव रचना एक नए पथ में प्रवेश कर रहा है, जहां हम देश में कहीं भी शिक्षार्थियों के समुदाय तक पहुंचने का प्रयास करेंगे।

हमने छात्रों की किसी भी आवश्यकता को पूरा करने के लिए विशेष रूप से एक शिक्षार्थी सहायता केंद्र बनाया है ताकि उन्हें सीखने का एक सहज अनुभव हो सके। छात्र अपने प्रश्नों को हल करने के लिए समर्पित ईमेल या लाइव चैट सुविधा के माध्यम से हमारे तकनीकी कर्मचारियों तक पहुंच सकते हैं। कार्यक्रम में बीएसई इंस्टीट्यूट लिमिटेड के पुल्लक भट्टाचार्जी और टैलेंट एज के ग्रुप डीन डॉ. शिवाकांत उपाध्याय, एमआरईआई के वीपी डॉ. अमित भल्ला, डॉ. संजय श्रीवास्तव, डॉ. एनसी वाधवा, डॉ. श्वेता भाटिया, पीवीसी नरेश ग्रोवर, रजिस्ट्रार आरके अरोड़ा, समेत कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.