फरीदाबाद,

क्राइम ब्रांच डीएलएफ की टीम ने हत्याकांड को अंजाम देने वाले आरोपी नीरज को उसके साथी लेखराज समेत धर दबोचा। पुलिस आयुक्त श्री विकास कुमार अरोड़ा ने पुलिस टीम का हौसला बढ़ाते हुए 10 हजार रूपये की प्रोत्साहन राशि के साथ टीम में शामिल पुलिसकर्मियों को प्रथम श्रेणी प्रशंसा-पत्र प्रदान किया।

आरोपी नीरज ने अपने दोस्त लेखराज के साथ मिलकर पत्नी आयशा, सास सुमन तथा साले गगन और उसके दोस्त राजन को गोली मार दी। इस घटना में गोली लगने से पत्नी आयशा, सास सुमन और साले के दोस्त राजन की मौके पर ही मौत हो गई तथा आरोपी का साला 26 वर्षीय गगन गंभीर रूप से घायल हो गया, जिसका उपचार चल रहा है। उपचार के क्रम में गगन ने पुलिस के समक्ष ब्यान दिया कि उसके जीजा ने अन्य की मदद से गोली मारकर  इस हत्याकांड को अंजाम दिया है। इसी बयान के आधार पर पुलिस ने आर्म्स एक्ट व हत्या की धाराओं के साथ अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया। आरोपी की पत्नी आयशा बीते एक वर्ष से आरोपी से अलग अपने मायके में अपनी माँ सुमन और भाई गगन के साथ रह रही थी।

पुलिस प्रवक्ता सुबे सिहं ने बताया कि एसीपी मुजेसर, एसएचओ धौज तथा क्राइम ब्रांच डीएलएफ के प्रभारी अनिल की टीम अन्य क्राइम ब्रांच की टीमों के साथ घटनास्थल पर पहुँची और आरोपी नीरज और साथी आरोपी लेखराज को काबू कर पूछताछ की गई। वारदात में प्रयोग मोटरसाइकिल एवं दो देसी पिस्टल बरामद कर ली गई हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.