फरीदाबाद,
डीसी जितेंद्र यादव ने कहा कि अब प्रत्येक बुधवार को अधिकारी और कर्मचारी साइकिलों से और पैदल कार्यालय में पहुंचे। इसके अलावा महीने में एक छुट्टी के दिन प्रशासनिक अधिकारी सार्वजनिक स्थानों में पेडों की छंटाई, निराई, गुडाई और उन्हें पानी आदि देकर स्वच्छ पर्यावरण संरक्षण के लिए भागीदारी सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने आगे कहा कि महीने में आधा दिन कार्यालयों में रखी फाइलों तथा अन्य साफ सफाई करना भी सुनिश्चित करेंगे।जितेंद्र यादव ने कहा वे स्वयं और उनके साथ सभी अधिकारी अपने घर से कार्यालय तक साइकिल पर प्रत्येक बुधवार को आएंगे। इसके लिए प्रशासन द्वारा साइकिल व्यवस्था करने का प्रयास किया जाएगा। लघु सचिवालय परिसर में प्रत्येक बुधवार को वाहनों की एंट्री प्रतिबंधित रहेगी। डीसी जितेंद्र यादव ने यह निर्देश आज मंगलवार को लघु सचिवालय के बैठक कक्ष में प्रशासनिक अधिकारियों दिए। उन्होंने कहा कि अब सप्ताह प्रत्येक बुधवार के दिन की यह मुहिम फरीदाबाद को ग्रीन फरीदाबाद, क्लीन फरीदाबाद बनाने के लिए जिला प्रशासन के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों की भागीदारी के लिए सुनिश्चित की गई है। उन्होंने कहा यह मुहिम फरीदाबाद के पर्यावरण संरक्षण और स्वच्छता अभियान में कारगर सिद्ध होगी।
जितेंद्र यादव ने कहा कि हमारे बुजर्ग भी इस प्रेरणा के स्रोत है। वे कहते थे कि सप्ताह में एक दिन आदमी को पैदल जरूर चलना चाहिए। हमारे बुजुर्ग पैदल या साइकिल के माध्यम से ही एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाते थे। इससे पर्यावरण को भी शुद्धता मिलती है और प्रदूषण कम होगा जिसे पर्यावरण में बहुत शुद्धता आएगी। डीसी जितेंद्र यादव ने कहा कि इस अभियान को फरीदाबाद में एक जन आंदोलन बनाया जाएगा। इसके लिए फरीदाबाद के हर नागरिक की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए एक मुहिम की शुरुआत की गई है जो कि भविष्य में कारवां बनकर ग्रीन फरीदाबाद और क्लीन फरीदाबाद बना कर दूसरे शहरों के लिए प्रेरणा का स्रोत बनेगी। अब इसे जन आंदोलन बनाने  के लिए हर फरीदाबाद के नागरिक को प्रेरित किया जाएगा। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने आम जनता से भी अपील कि वे भी प्रत्येक बुधवार को कार फ्री डे बनाने में प्रशासन को में अपना सहयोग दें और सप्ताह में प्रत्येक बुधवार एक दिन कार फ्री डे जरूर मनाएं ताकि क्लीन फरीदाबाद, ग्रीन फरीदाबाद बनाने के सभी भागीदार बन सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.