फरीदाबाद,

हरियाणा सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं हरियाणा ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग के वित्त आयुक्त अमित झा ने कहा कि पंचायती राज विभाग में भी पीडब्ल्यूडी, बीएण्डआर, सिंचाई, पब्लिक हेल्थ सहित अन्य विभागों की तर्ज पर विकास कार्य कराया जाए। अच्छे कार्य करने वाले अधिकारियों को सम्मानित किया जाएगा और जिन के विकास कार्य धीमी गति से मिलेगें उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि 20 लाख रुपये से अधिक धनराशि के सभी विकास कार्य मद के हैं। उन्हें इंजीनियरिंग द्वारा पूरा करवाया जाए और इसके लिए जिला स्तर पर कार्यकारी अभियंता जिम्मेदार होंगे। 

अमित झा ने मेगपाई में पंचायती राज विभाग के प्रशासनिक एवं इंजीनियरिंग विंग के अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रशासनिक व इंजीनियरिंग अधिकारी आपस में सही तालमेल करके ग्रामीण क्षेत्रों के विकास कार्यों को पूरा करें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री एवं हरियाणा सरकार के मुख्य सचिव द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार पंचायती राज विभाग के सभी ऐस्टीमेट और विकास कार्यों का परफॉर्मा ऑनलाइन करवाएं।

अमित झा ने कहा कि प्रदेश के सभी सर्किलों की धनराशि अलग-अलग मदों में आएगी और उन्हीं मदो में विकास कार्य करवाना होगा। उन्होंने कहा कि विभाग के पुराने कामों को भी ऑनलाइन करें, विकास कार्यों को इंजीनियरिंग विंग पूरा करेगा और प्रशासनिक अधिकारी उनकी मॉनिटरिंग करने का कार्य करेंगे।

बैठक में उपायुक्त जितेंद्र यादव, अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर मान, सीईओ जिला परिषद कम एसडीएम अमित कुमार, डीडीपीओ राकेश सिंह मोर सहित पंचायती राज विभाग  गुरुग्राम और फरीदाबाद मंडल के सभी इंजीनियर विंग के अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.