फरीदाबाद,
एनआईटी क्षेत्र के बाजारों में व्याप्त मूलभूत सुविधाओं की कमी को लेकर हरियाणा व्यापार मंडल का एक प्रतिनिधिमंडल जिला प्रधान राम जुनेजा के नेतृत्व में नगर निगम कमिश्रर यशपाल यादव से मिला और उन्हें अपनी समस्याओं से संबंधित एक ज्ञापन सौंपा। प्रतिनिधिमंडल में हरियाणा व्यापार मंडल बल्लभगढ़ के प्रधान प्रेम खट्टर, देवेंद्र रतड़ा तिकोना पार्क प्रधान, सागर दुआ बाटा चौक प्रधान, हरीकिशन वर्मा प्रधान दो नंबर आदि मौजूद थे।
प्रधान राम जुनेजा ने निगमायुक्त को बताया कि त्यौहारों का सीजन शुरू होने वाला है और कोरोना महामारी से जूझ रहे दुकानदारों को त्यौहारी मौसम में अपनी आर्थिक स्थिति बेहतर करने की आस बंधी है। उन्होंने कहा कि एनआईटी क्षेत्र के बाजारों का हालत इतना बुरा है कि सडक़ों पर व्याप्त गड्ढे व जलभराव के चलते लोगों का आवागमन बाधित हो रहा है, जिससे ग्राहक दुकानों पर आने से कतराता है इसलिए जब तक नई सडक़ें न बने तब तक इस जर्जर सडक़ों में बने गड़्ढों को रिपेयर करके भरवाया जाए, जिससे कि लोग खरीदारी करने बाजार आ सकें। व्यापारियों ने बताया कि बाजार में लगी अधिकतर स्ट्रीट लाईटें पूरी तरह से खराब है, जिसके चलते शाम ढलते ही अंधेरा हो जाता है और लोगों का आवागमन कम हो जाता है वहीं असामाजिक तत्व अंधेरे का फायदा उठाकर अपराध को अंजाम दे सकते है इसलिए बाजारों में लगी सभी स्ट्रीट लाईटों को रिपेयरिंग करवाकर ठीक करवाया जाए। इसके अलावा शहर में साफ सफाई की व्यवस्था भी बेहतर करवाई जाए, जिससे कि बाजारों में आने में लोगों को परेशानी न हो। व्यापारियों ने निगमायुक्त को एक बड़ी समस्या बताते हुए कहा कि जो भी व्यक्ति अपनी प्रापर्टी का नो ड्यूज लेने जाता है तो उससे रजिस्ट्री की कॉपी, एफिडेविट अथवा एक गवाह बुलाने को कहा जाता है, जबकि इस प्रापर्टी पर हाऊस टैक्स भरा हुआ है कोई ड्यूज नहीं है, इसके बावजूद इस प्रकार की प्रक्रिया लगाना लोगों के लिए परेशानी का सबब है क्योंकि इस प्रक्रिया से लोगों को अपनी प्रापर्टी के बंटवारे में परेशानियां पेश आती है इसलिए इस प्रावधान को समाप्त करवाया जाए। निगमायुक्त ने व्यापारियों की सभी समस्याओं को गंभीरतापूर्वक सुनने के बाद उन्हें आश्वासन दिया कि उनकी सभी समस्याओं को जल्द से जल्द दूर करवाने का प्रयास किया जाएगा। इस अवसर पर पवन भाटिया, विनोद आहुजा, एस ग्रोवर, हरीश बत्रा, रवि तेजा आदि व्यापारीगण मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.