फरीदाबाद
डीसी जितेंद्र यादव ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार शैक्षणिक संस्थानों में टीचिंग एवं नॉन टीचिंग स्टाफ का टीकाकरण जरूरी है।इस संबंध में सरकारी और निजी स्कूलों में लॉकडाउन दिशानिर्देशों में छूट, कोविड-19 वायरस के संपर्क में आने की संभावनाएं हैं। साथ ही आगामी कोविड-19 के संक्रमण की तीसरी लहर में बच्चों के अधिक जोखिम में होने का संदेह है। आज तक बच्चों के लिए वैक्सीन अभी भी ट्रायल मोड में है। साथ ही स्कूल, कॉलेज और विश्वविद्यालय अब खुल रहे हैं। चरणबद्ध तरीके से और निकट भविष्य में इन सभी संस्थानों को पूर्ण रूप से खोलना जरूरी है। इसको देखते हुए माध्यमिक शिक्षा, स्कूली शिक्षा और उच्च शिक्षा और सभी शिक्षण संस्थाएं टीकाकरण और निजी और सरकारी दोनों संस्थानों सहित गैर-शिक्षण कर्मचारियों द्वारा प्राथमिकता के आधार पर विशेष शिविरों का आयोजन कर वैक्शीनेशन का कार्य पूरा करें।
जिला शिक्षा अधिकारी ने जिला के सभी स्कूलों के शिक्षकों को निर्देश दिए हैं कि वे अपनी वैक्सीन लगवाने की रिपोर्ट अवसर एप पर भरें।  जिन शिक्षकों को अभी वैक्सीन नहीं लगी है उनके लिए जिला शिक्षा अधिकारी ने सीएचसी/स्कूल स्तर पर वेक्सीनेशन की व्यवस्था करने के लिए कहा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.