गरीबों का सशक्तीकरण सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। यह विचार ऊर्जा एवं भारी उद्योग केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने सेक्टर 24 में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत पात्र लाभार्थियों को अन्न वितरित के उपरांत कहे। उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं को पहले की तुलना में लगभग दोगुना राशन मिल रहा है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (पीएमजीकेएवाइ) के स्थानीय लाभार्थियों से बातचीत करते हुए खाद्य प्रबंधन की खामियों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि सालों साल से गोदामों में अनाज का स्टाक ब़़ढता रहा, लेकिन उस अनुपात में भुखमरी और कुपोषषण में कमी नहीं आई। आजादी के बाद सभी सरकारें गरीबों को सस्ता भोजन देने की बात कहती रहीं, इसके लिए चलाई गई योजनाओं का दायरा और बजट साल दर साल ब़़ढता गया। लेकिन इस विषय के सम्बंध में अपेक्षित प्रभाव नहीं हुआ। लेकिन केंद्र की भाजपा सरकार ने नई तकनीक का उपयोग करके करोड़ों फर्जी लाभार्थियों को राशन प्रणाली से बाहर कर राशन कार्डो को आधार नंबर से जोड़ दिया गया, जिससे फर्जीवाड़ा रोकने में मदद मिली है। उन्होंने कहा कि खाद्य सुरक्षा को और मजबूत बनाने के लिए देश के 33 राज्यों व केंद्र शासित क्षेत्रों में वन नेशन–उन्होंने उपस्थित लोगों को कहा कि वे इस संबंध में जिला खाद्य आपूर्ति नियंत्रक से संपर्क करें या ऑनलाइन इस संबंध में जानकारी हासिल कर योजना का भरपूर लाभ लें और इस संबंध में आने वाली किसी भी प्रकार की समस्या से उन्हें या संबंधित विभाग को समय रहते अवगत कराएं ताकि समस्या का समय रहते निराकरण किया जा सके। अवसर पर महेन्द्र भड़ाना, राजेश डागर, जिला खाद्य आपूर्ति नियंत्रक अशोक रावत सहित अनेको गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.