फरीदाबाद

मानव रचना शैक्षणिक संस्थान ने अपने 25 वें साल में प्रवेश कर लिया है। रजत जयंती महोत्सव के खास मौके पर एजुकेशन लीडर्स समिट-2 का आयोजन किया गया। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने बतौर गेस्ट ऑफ ऑनर हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने कैंपस में बटरफ्लाई गार्डन का उद्घाटन और 25 साल के लोगो का अनावरण भी किया। मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल के छात्रों ने मानव रचना रजत जयंती एंथम गाकर इस मौके को और खास बना दिया। कार्यक्रम में एनएसडीसी के एक्स एमडी एंड सीईओ मनीष कुमार, मानव रचना शैक्षणिक संस्थान की संरक्षक सत्या भल्ला, अध्यक्ष डॉ. प्रशांत भल्ला, उपाध्यक्ष डॉ. अमित भल्ला समेत कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।
इस दौरान स्मृति ईरानी ने एजुकेशन लीडर्स समिट के चैप्टर टू में छात्रों के साथ बातचीत की। उन्होंने कहा, जीवन आगे देखने के बारे में है; चुनौतियां आएंगी और परेशानी के अंत में एक सुंदर कल होगा। एक संतुलन खोजें, और आप पाएंगे कि आप क्या चाहते हैं। उन्होंने कहा, शिक्षा को लोकतांत्रिक बनाने के लिए, आपको यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि यह हर बोली जाने वाली और ज्ञात भाषा में उपलब्ध हो। विकलांग बच्चों को दया की आवश्यकता नहीं है लेकिन एक ‘सबके लिए समान अवसर’  शिक्षा का आधार है जिस पर ध्यान देने की आवश्यकता है। स्किलिंग अंतिम लक्ष्य है लेकिन शिक्षकों को शिक्षित करने की एक पूरी प्रक्रिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.