• ट्रैफिक पुलिस को मिली एक्सीडेंट केस में इंवेस्टिगेशन की पॉवर

फरीदाबाद पुलिस कमिश्ननर ओपी सिंह ने सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने के लिए ट्रैफिक पुलिस को इंवेस्टिगेशन करने का अधिकार प्रदान किया गया है। जिसमें ट्रैफिक पुलिस अब हिट एंड रन केसों में खुद इंवेस्टिगेशन कर सकेगी। इसके लिए इंवेस्टिगेशन अधिकारी नियुक्त किए जाएंगे। ट्रैफिक पुलिस द्वारा फरीदाबाद के दुर्घटना संभावित 11 स्थानों को चिन्हित किया गया है जहां पर सड़क दुर्घटनाएं सबसे ज्यादा होती हैं।
इन चिंहित किए गए इन 11 स्थानों में नीलम चौक न्यू आईएमटी राउंड, सेक्टर 48 में स्थित मस्जिद तथा श्मशान घाट, बल्लभगढ़ सोहना रोड पर स्थित सनी यादव फार्म हाउस, लखानी मेट्रो स्टेशन, नीलम चौक, लखानी धर्मशाला, बल्लबगढ़ मेट्रो अनाज मंडी कट, चंदावली पुल बाईपास, क्रॉउन इंटीरियर्ज मॉल, सराय ख्वाजा बायपास रोड तथा सीएचसी तिगांव–शिव कॉलेज रोड़ शामिल हैं। उक्त स्थानों पर वर्ष 2020 में कुल 30 एक्सीडेंट हुए जिनमें 12 व्यक्तियों की मृत्यु हुई और 31 व्यक्ति घायल हुए वहीं वर्ष 2021 की बात करें तो जुलाई महीने तक इन स्थानों पर 16 एक्सीडेंट हो चुके हैं जिसमें 7 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है और 11 व्यक्ति घायल हुए हैं। चिन्हित किए गए इन स्थानों पर ज्यादातर दुर्घटनाएं गलत दिशा में गाड़ी चलाने, ओवर स्पीडिंग, बिना सीट बेल्ट यात्रा तथा ड्रिंक एंड ड्राइव की वजह से घटित होती हैं जिसपर अंकुश लगाने के लिए ट्रैफिक पुलिस द्वारा इन
स्थानों पर संकेतात्मक बाेर्ड लगवाए गए हैं जिनके माध्यम से लोगों को उक्त स्थानों पर ध्यानपूर्वक गाड़ी चलाने के लिए निर्देशित किया गया है। पुलिस प्रवक्ता द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार ट्रैफिक पुलिस द्वारा वर्ष 2021 में अब तक  58640 वाहन चालको के यातायात अधिनियम के तहत चालान काटकर 4 करोड़ 22 लाख 34 हज़ार 700 रुपए का जुर्माना लगाया गया है। इस वर्ष काटे गए 58640 चालानों में 11974 चालान गलत दिशा में गाड़ी चलाने, 7416 ओवर स्पीडिंग, 7475 बिना हेलमेट तथा 3898 चालान बिना सीट बेल्ट यात्रा करने के शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.