– चोरी की मोटरसाईकिल सहित आरोपी को पुलिस ने दबोचा

क्राईम ब्रांच एनआईटी की टीम ने थाना सूरजकुण्ड क्षेत्र से एक मोटरसाईकिल चोरी के आरोपी में एक युवक को गिरफ्तार किया है। आरोपी दिल्ली रहने वाला है। गश्त के दौरान पुलिस को देख आरोपी लगा तो पुलिस टीम उसे रोक बाइक के कागज मांगे। पूछताछ में पता चला उसने बाइक को दिल्ली से चुराया था। थाना सूरजकुंड पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

– खुदकुशी करने निकली 16 वर्षीय नाबालिग लड़की को पुलिस ने किया परिजनों के हवाले

पुलिस गश्त के दौरान बस स्टैंड पर पुलिस टीम को सहमी हुई सी एक लड़की दिखाई दी। पुलिस को संदेह हुआ तो उन्होंने गाड़ी रोककर लड़की से पूछताछ करनी शुरू की जिसमें उसने बताया कि वह 11वीं कक्षा की छात्रा है और अपने माता-पिता से नाराज होकर वह अपना घर छोड़कर चली आई है। लड़की अपने परिजनों से तंग आकर खुदकुशी करने की सोच रही थी परंतु पुलिसटीम ने समझा बुझाकर उसे अपने परिजनों के पास वापस जाने की सलाह दी। पुलिस टीम ने लड़की और उसके परिजनों को साथ बैठाकर आपस में लड़ाई झगड़ा नहीं करने तथा खुशी-खुशी अपने परिवार के साथ रहने की हिदायत दी जिस पर उसके परिजनों ने लड़की के थ झगड़ा न करने का विश्वास पुलिस टीम को दिलवाया।

– पढाई को लेकर परिजनों की डांट से नाराज नाबालिग को पुलिस ने मिलाया
परिजनाें से पढ़ाई को लेकर अपने पिता की लगातार डांट से परेशान होकर घर से निकले 12 वर्षीय लड़के को फरीदाबाद पुलिस की नवगठित डायल 112 ERV टीम ने वापिस उसके परिवार से मिलाने में अहम् भूमिका निभाई है। पुलिस के मुताबिक, नाबालिक लड़का फरीदाबाद खेडी पुल पर अपने स्कूल बैग सहित ऑटो में सवार हो गया था। ऑटो चालक ने इस बच्चे को उतार कर पुलिस को 112 नंबर पर सूचना दी जिसपर पुलिस की डायल 112 ERV की टीम तुरंत मौके पर पहुंची और बच्चे को बरामद कर लिया। पुलिस टीम ने बच्चे से घर से निकलने का कारण पूछा तो उसने बताया कि वह 8वीं कक्षा का छात्र है और उसके पिता उसे हर समय पढ़ाई को लेकर उसे डाँटते रहते है इसलिए वह घर छोड़कर भाग आया। पुलिस टीम बच्चे को लेकर उसके बताए अनुसार उसके घर पर लेकर पहुंची। घर परमौजूद बच्चे के पिता अपने बेटे को लेकर बहुत परेशान थे। जैसे ही उन्होंने अपने बेटे को देखा वह बहुत खुश हुए । पुलिस टीम ने लड़के के पिता को बच्चे के साथ सौहार्दपूर्ण तरीके से व्यवहार करने तथा उसे प्यार से समझाने की हिदायत के साथ बच्चे को परिवार के हवाले कर दिया।

– 7 वर्ष से लापता बच्चे को बरामद किया फरीदाबाद पुलिस ने नोएडा से सोचिए क्या हो अगर किसी का बेटा 7 वर्ष से लापता हो और दर-दर की ठोकरें खाने के पश्चात भी उन्हें अपने बेटे की कोई खबर ना मिले। इसी तरह एक बच्चा 7 वर्ष पहले लापता हो गया था जिसकी तलाश में उसकेमाता-पिता ने जमीन आसमान एक कर दिया परंतु उन्हें उसकी कोई खबर नहीं मिली। उन्होंने अपने बच्चे को वापस पाने की आस भी छोड़ दी थी कि फरीदाबाद पुलिस में तैनात हवलदार विकास की सतर्कता और सूझबूझ के चलते माता पिता अपने बच्चे को वापस पाने में कामयाब हो पाए। घटना वर्ष 2014 के फरवरी माह की है जब बच्चे के पिता ने थाना मुजेसर मेंआकर सूचना दी उसका 12 वर्षीय लड़का घर से लापता हो गया। उसने हर जगह अपनेबेटे को तलाश करने की कोशिश की परंतु हर जगह उसे असफलता ही हाथ लगी। लड़के के पिता की शिकायत पर गुमशुदगी की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके बच्चे की तलाश शुरू की गई। पुलिस ने भी बच्चे को ढूंढने का भरसक प्रयास किया। उसकी फोटो लेकर आसपास के क्षेत्र में पूछताछ की गई परंतु पुलिस को भी कुछ हाथ नहीं लगा। बच्चे की तलाश में 7 वर्ष का समय बीत गया परंतु अभी तक बच्चे की कोई जानकारी पुलिस को प्राप्त नहीं हुई। अभी अचानक उसी बच्चे की पुरानी फोटो के साथ एक वीडियो फेसबुक पर वायरल हो रही थी जिसे बच्चे की तलाश कर रहे अनुसंधान अधिकारी हवलदार विकास ने देख लिया। हवलदार विकास ने वीडियो को ध्यान से देखा और उसे संदेह हुआ कि यह वही बच्चा है जिसकी वह तलाश कर रहे थे। विकास ने वीडियो में फोटो देख गुमशुदाहुए बच्चे की फोटो अपने पास मौजूद फोटो से मिलाई तो फोटो मिलती हुई प्रतीत हुई। हवलदार ने इसकी सूचना तुरंत उच्च अधिकारियों को दी। थाना प्रबंधक ने तुरंत एक स्पेशल टीम गठित कर मामले की जांच के आदेश दिएजो आदेश पर पुलिस टीम बच्चे की जानकारी प्राप्त करने के लिए नोएडा रवाना हो गई। वहां पर पूछताछ करने पर पता चला कि बच्चा नोएडा में किसी चतर सिंह व्यक्ति के पास रहता है। पुलिस टीम ने उक्त व्यक्ति के घर जाकर बच्चे का पता किया। बच्चा वहां दुरुस्त हालत में मिला। पूछताछ में बच्चे ने बताया कि वह घर से निकल आया था जो यमुना नदी पार करने पर कुत्ते ने काट लिया था। उसकी हालत ठीक नहीं थी जो उन्हें चतर सिंह ने अपनी शरण दी।

– पड़ोसी के घर से चोरी किए मोबाइल, पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल
फरीदाबाद, थाना सेक्टर 7 की पुलिस टीम ने पड़ोसी के घर चोरी की वारदात को अंजाम देने के जुर्म में एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपी की पहचान हाथरस निवासी के रूप में हुई है। घटना 19 जुलाई की है जब पुलिस को सूचना प्राप्त हुई कि शिकायतकर्ता के घर पर शादी का समारोह था और इसी दौरान उसके घर से दो मोबाइल फोन व 10400 रुपए चोरी हो गए थे। पीड़ित की शिकायत पर थाना सेक्टर 7 में आरोपी के खिलाफ चोरी की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू की गई। साइबर तकनीकी और गुप्त सूत्रों की सहायता से आरोपी का बाटाफ्लाईओवर के पास होने की सूचना प्राप्त हुई जिस पर तुरंत कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई और आरोपी को दबोच लिया। आरोपी के कब्जे से दोनों फोन और पैसे बरामद किए गए। आरोपी ने पूछताछ में बताया कि वह किराए पर ऑटो चलाने का काम करता है जो लॉकडाउन के दौरान उसका ऑटो चलाने का काम बंद हो गया गुजारा चलाने के लिए उसने चोरी की घटना को अंजाम दिया था। आरोपी फोन बेचने की फिराक में था कि पुलिस ने पहले ही उसे गिरफ्तार कर लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.