पलवल
किसान आंदोलन को लेकर अनाज मंडी में 25 जुलाई को पंचायत होगी। पंचायत में सर्वकर्मचारी संघ, महासंघ, रिटायर्ड कर्मचारी संघ, मजदूर संगठनों के प्रतिनिधि भी आएंगे। बीते साल की 3 दिसंबर से दिल्ली-आगरा नेशनल हाईवे के अटोहां क्रातिकारी चौक पर किसान धरना का संचालन कर रही किसान संघर्ष समित ने पाल और खाप के आधार पर लोगों को महापंचायत में शामिल होने का न्यौता दिया जा रहा है। पूर्व सीएम और इंडियन नेशनल लोकदल के सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला 20 जुलाई को किसान धरना में शामिल होंगे। पंचायत में किसान नेताओं के शामिल होने की संभावना है। महापंचायत में शामिल होने के लिए राजनीतिक दलों के नेताओं को भी न्यौता दिया जा रहा है। राष्ट्रीय स्तर के किसान नेता भी महापंचायत में शामिल हो सकते हैं। महापंचायत के जरिये किसान आंदोलन को और अधिक तेज किए जाने की नीति बनाई जाएगी। नेशनल हाईवे पर बीती 3 दिसंबर से किसानों का धरना जारी है। महापंचायत में नूहं जिला के मेव किसानों को भी शामिल करने के लिए किसान नेता जनसंपर्क अभियान कर रहे हैं।  किसान नेता रतन सिंह सौरोत, मास्टर महेन्द्र सिंह चौहान, धर्मचंद घुघेरा, राजकुमार औलिहान, किसनचंद शर्मा, रूपराम तेवतिया ने कहा है कि केन्द्र और राज्य सरकार पर दबाव बनाने के लिए आंदोलनकारी किसान यूपी चुनावों में बीजेपी को वोट नहीं देने के अपील भी करेंगें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.