गुरुग्राम,
हरियाणा सरकार की योजना यदि सफल हो जाती है तो राशन कार्ड धारकों को राशन डिपो की लाइन में नहीं लगना होगा। सरकार ने लोगों के लिए पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर देश का पहला ग्रेन एटीएम गुरुग्राम के फरूखनगर में स्थापित किया है। डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने इस मौके पर कहा कि ग्रेन एटीएम लगने से सरकारी दुकानों से राशन लेने वालों के समय और पूरा माप न मिलने को लेकर तमाम शिकायतें दूर हो जाएंगी।
उन्होंने कहा कि इससे लोगों को फायदा होगा और सार्वजनिक अनाज वितरण प्रणाली में पहले से अधिक पारदर्शिता आएगी। यह पायलट प्रोजेक्ट सफल होने के बाद ऐसी अन्न आपूर्ति मशीनों को पूरे प्रदेश में सरकारी डिपो पर लगाने की योजना है।
ग्रेन एटीएम मशीन बैंक एटीएम की तर्ज पर कार्य करती है। यूनाइटेड नेशन के वर्ल्ड फूड प्रोग्राम के तहत इसे स्थापित किया गया है। कार्यक्रम से जुड़े अधिकारी ने बताया कि अनाज के मापतोल को लेकर इसमें कमी न के बराबर है और एक बार में यह मशीन 70 किलो तक अनाज पांच से सात मिनट में निकाल सकती है। मशीन में एक बायोमेट्रिक मशीन भी लगी हुई है, जहां पर लाभार्थी को आधार या राशन कार्ड का नंबर डालना होगा। बायोमेट्रिक से सुनिश्चित करने पर लाभार्थियों को सरकार द्वारा निर्धारित अनाज स्वत: मशीन के नीचे लगाए गए बैग में भर जाएगा। इस मशीन के माध्यम से तीन तरह के अनाज गेहूं, चावल और बाजरा का वितरण किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.